स्वादिष्ट सत्तू बनाने का विधि

स्वादिष्ट सत्तू बनाने का विधि के बारे में जाने और आप भी स्वादिस्ट सत्तू बनायें

सत्तू ग्रामीण क्षेत्रों में पुरातन समय से प्रचलित खाध है | सत्तू का गरमी के मौसम में प्रमुख रूप से प्रयोग किया जाता है | यह स्वाथ्य की दृष्टि से पौष्टिक व सुपाच्य होने के साथ – साथ रेडीमेड फूड है जिसे यात्रा में, कृषि कार्य करते समय जंगल में तथा कहीं भी कठिन परिस्थितियों में जहाँ खाना उपलब्ध नहीं है, आसानी से प्रयोग किया जा सकने वाला खाध पदार्थ हैं | यह सस्ता, सात्विक व सुगम भोज्य पदार्थ है | पिछले दिनों बढ़ती भौतिकता के साथ इसका प्रचलन घटा है I यदि इसकी उपलब्धता सुनिश्चित की जा सके तो इसके प्रचलन को पुनः बढ़ावा मिल सकता है और कई गरीब परिवारों का कुतिया उधोग के रूप में स्वावलम्बन का भी आधार बन सकता है I

मौसम व क्षेत्र की भिन्नता के साथ कई अनाजों के सत्तू बनाए जाते हैं जिसमें चना, जौ, मक्का, लाई के सतू प्रमुख हैं I कई धान्यों को मिलकर मिक्स सतू भी तैयार किया जा सकता है I

सामग्री :

  1. भुना हुआ चना  –   1 कि.ग्राम
  2. जीरा –   50 ग्राम
  3. नमक –   10 ग्राम
  4. सौंप या सोंठ –     50 ग्राम
  5. चीनी –   250 ग्राम
  6. पुदीना/धनिया/मेथी/मीठा नीम की पत्तियों का सुखा पाउडर –     50 ग्राम

बनाने की विधि :

  1. साफ भूने हुए चने का छिलका उतारकर बारीक आटा बना लें तथा चलनी से छान लें | यह आटा सत्तू कहलाता है |
  2. जीरा, नमक एवं सूखा हरा पुदीना या धनिया या सूखा हरा धनिया या सूखी हरी मेथी अथवा मीठा नीम (कढ़ी पती) की पतियाँ उपरोक्त मात्रा में लेकर सभी को मसाला तैयार करें I तैयार मसाला को शीशी अथवा डिब्बो में भरकर सुरक्षित करें I पौलिथिन की छोटी पुड़िया के रूप में भी पैक किया जा सकता है I
  3. सौंप + काली मिर्च अथवा सोंठ अच्छी सुखाकर या हल्की सी भूनकर चीनी के साथ बारीक पीस लें तथा छोटी पौलिथिन में पैक कर दें | गर्मी के मौसम में सौंप + मिर्च तथा सर्दी के मौसम में सोंठ का प्रयोग किया जा सकता है |
  4. सत्तू को पौलिथिन थैली में डालें तथा उसी में सत्तू मसाला का उपरोक्त सील्ड पैकेट रखकर सील कर दें | यदि आधा किलो सत्तू का पैकेट बनाना है तो मसाला की भी आधी मात्रा कर दें | यह नमकीन सत्तू का पैकेट तैयार है |
  5. यदि मीठे सत्तू का पैकेट बनाना है तो सत्तू के पैकेट में चीनी सौंप की थैली रखकर पैक किया जा सकता है |नमकीन मसाले की पुड़िया या चीनी सौंप की थैली को सत्तू के पैकेट से बाहर भी रखा जा सकता है तथा सत्तू पैकेट के साथ अलग से दिया जा सकता है

प्रयोग विधि :

1 गिलास पानी में 4 चम्मच (टी स्युनफुल) अर्थात् लगभग 20 ग्राम सतु तथा आधी चम्मच मसाला डालकर अच्छी तरह मिलाएँ | यदि चाहें तो इसमें नींबू भी निचोड़ लें सेवन करें | यदि सत्तू को मीठा बनाना है तो इसके साथ दो चम्मच सौंपयुक्त चीनी डालकर घोलें |

नोट :-

चने का सत्तू थोड़ा भारीपन लाता है | अतः इसके साथ अन्य कोई धान्य भी मिक्स भी किया जा सकता है |

comments

Check Also

जैली बनाने की प्रक्रिया

अब आप जैली बनाने की प्रक्रिया के बारे में जाने जैली बनाने के लिए निम्नलिखित …

सोशल मीडिया पर राजीव भाई से जुड़ें ।

Facebook460k
Facebook
YouTube224k
Google+0