आम का मुरब्बा बनाने की विधि

आम बहुत ही मजेदार एवं रसदार फल होता है I आम चुकी खास मौसम में ही होता है इसलिए हम सभी आम को विभिन्न तरीकों से सुरक्षित करते हैं, जिससे हमें आम का स्वाद सभी मौसम में प्राप्त होता है I आम का मुरब्बा बनाना बहुत ही आसान होता है I आम की अधिकता के समय मुरब्बा बनाने पर बहुत ही कम खर्च में भी तैयार हो जाता हैI आप निम्नलिखित परामर्श को ध्यानपूर्वक देख कर अच्छा मुरब्बा तैयार कर सकते है जिसको आप अपने घर में उपयोग कर सकते हैं तथा आप इसे बाजार में बेच कर पैसे प्राप्त कर सकते हैंI

आम का मुरब्बा बनाने की विधि:-

बनाने की सामग्री :

  • आम – लगभग 1 किलोग्राम( गुद्देदार अध-पका फल )
  • चीनी – 1.5 किलोग्राम ( आवयश्कता के अनुसार )
  • नमक – 2 चम्मच

आम की तैयारी एवं टुकड़े बनाना:

आम के अध-पके गुद्देदार फल को चुने तथा छीलकर फाँके बना लीजिए I

आम को गोदना :

आम का मुरब्बा बनाने के लिए गोदना एक महत्वपूर्ण क्रिया है I आम को काँटे या बाँस की तीली की सहायता से थोडा गोदना चाहिए I गोदे हुए आम में चीनी का गाढ़ा घोल आसानी से प्रवेश कर जाता है जिससे फरमेंटेशन नहीं होता I

आम को पकाना :

आम को 2 प्रतिशत नमक के घोल में डालिए तथा फिर टुकड़ों को 3 – 5 मिनट तक उबलते पानी में उबालकर पानी से छान लीजिये I आम को नमक के घोल में पकाने पर इसका रंग खराब नही होता है I यह एक जरुरी प्रक्रिया है I

आमको चीनी की चासनी में रखना :

सर्व प्रथम आम  पकाने के तुरंत बाद एक अल्युमिनियम या स्टील के भगोने में चीनी की एक तह बिछानी चाहिए I उसके बाद उसके ऊपर आम की एक तह लगानी चाहिए I आम  के ऊपर चीनी की एक तह लगानी चाहिए I इस तरह फलों को चीनी के तहों के बीच 24 घंटे के लिए रख देना चाहिए I

दुसरे दिन अधिकांश चीनी पिघल जाएगी I अब आम  को बाहर निकालकर चासनी को पका लेना चाहिए I एक उबाल आ जाने पर प्रति किलोग्राम चीनी में 2 – 3 ग्राम साइट्रिक एसिड मिला देना चाहिए I चासनी को छानकर आम को फिर गरम चासनी में डालकर 24 घंटे के लिए रख देना चाहिएI

तीसरे दिन आम  को चासनी से निकालकर चासनी को इतना पकाइए कि चीनी कि मात्रा 70 – 72 प्रतिशत हो जाय I ऐसी अवस्था में  आम के टुकड़े को फिर गरम चासनी में डाल देना चाहिए I

आठ दस दिन बाद आम को चासनी से निकालकर चासनी को पाँच मिनट फिर पका लेना चाहिए क्योंकि इस अवधि में परासरण की क्रिया से चासनी पतली हो जाती है तथा चीनी की मात्रा कम होने की संभावना रहती है I

इस विधि से बनाया हुआ आम का मुरब्बा अधिक चमकदार तथा आकर्षक लगता है इसलिए मुरब्बा बनाने की यह सर्योतम विधि है I

जार में भरना : – जब मुरब्बा ठण्डा हो जाय तो बड़े मुँह के बर्तन में भरना चाहिए I आम को  चासनी में डूबे रहना चाहिए I जार में ढक्कन लगाकर मोम से सील बंद कर देना चाहिए I

कृपया ध्यान दें:-

अर्थोपार्जन के लिए उत्तम प्रक्रिया है- निरंतर प्रयास I आपको आम का मुरब्बा बनाकर हमारे प्रयास की सार्थकता को भी सिद्ध करना है I आम का मुरब्बा बनाने की विभिन्न प्रक्रियाओं में, ये सुझाव डुबते को तिनके के सहारे जैसा है I यदि आपके पास और भी कोई मुरब्बा बनाने के तरीकों की जानकारी उपलब्ध है, तो कृपया अपनी जानकारी हमें प्रदान करें जिससे हम प्रकृति में जीवन एवं स्वावलंबन के लिए लोंगों की मदद कर सकें I

comments

Check Also

जैली बनाने की प्रक्रिया

अब आप जैली बनाने की प्रक्रिया के बारे में जाने जैली बनाने के लिए निम्नलिखित …

सोशल मीडिया पर राजीव भाई से जुड़ें ।

Facebook490k
Facebook
YouTube269k
Google+0